HomeJob Profile

रेलवे(Train) ड्राइवर कैसे बनें?Career as a Railway driver(Loco-Pilot)/Complete Information

रेलवे(Train) ड्राइवर कैसे बनें?Career as a Railway driver(Loco-Pilot)/Complete Information
Like Tweet Pin it Share Share Email

रेलवे/ट्रेन ड्राइवर कैसे बनें(Career as a Loco-Pilot)

सरकारी नौकरी के सेक्टर में रेलवे क्षेत्र शुरुआती समय से ही युवाओं के लिए प्रमुख आकर्षक करियर के रूप में रहा हैIभारतीय रेल विश्व का चौथा और एशिया की दूसरे सबसे बड़े रेल नेटवर्क हैI हमारे देश में सबसे ज्यादा रोजगार देने के लिए भारतीय रेल को जाना जाता हैI वर्तमान में करीब 16 लाख से अधिक कर्मचारी रेलवे के विभिन्न  विभागों में कार्यरत हैंI यदि आप सरकारी नौकरी की ख्वाहिश रखते हैं तो भारतीय रेलवे के परीक्षा से आपको बेहतरीन अवसर रोजगार का मिल सकता हैI विशेष बात यह है कि इनमें अनेक शैक्षणिक स्तर के उम्मीदवार अपनी योग्यतानुसार नौकरी पा सकते हैंI वर्तमान में भी जहां बेरोजगारी दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है वही यह है कि सत्य है कि परिश्रमी और कौशलता से परिपूर्ण लोगों के लिए भारतीय रेलवे में रोजगार के अवसर कम नहीं हुए हैंIसही मार्गदर्शन और लगन के साथ-साथ कड़ी परिश्रम के बदौलत आप भी भारतीय रेलवे में अपने रूचि के अनुसार नौकरी पा सकते हैंI  रेलवे में विभिन्न प्रकार के श्रेणी के पोस्ट होते हैं जिनमें अलग-अलग शैक्षणिक योग्यता के साथ-साथ आयु सीमा होती हैIआज के इस आलेख के जरिए हम रेलवे ड्राइवर के प्रवेश प्रक्रिया तथा उससे जुड़ी सारी गतिविधियों के बारे में विस्तृत रूप जानेंगे

ट्रेन ड्राइवर को बोलचाल की भाषा में लोको पायलट भी कहा जाता हैI जब भी हम कभी मित्र एवं परिवार के साथ ट्रेन केमाध्यम से यात्रा करते हैंI तो वह यात्रा किसी अन्य परिवहन की तुलना में काफी रोमांचक होता हैIएक नए अनुभव के साथ काफी मनोरम दृश्य और हमेशा मन में एक सवाल स्वत: उठती है की इतनी लम्बी रेलगाड़ी को कैसे किसी  व्यक्ति द्वारा चलाया जाता है?आखिर उनमें क्या विशेषता होती है किस तरह के प्रशिक्षण एवं अनुभव के आधार पर वह यात्रियों को सुरक्षित अपने गंतव्य स्थानों पर पहुंचाते हैंI ऐसे कई सारी जिज्ञासा ना सिर्फ उत्सुकता पैदा करती है बल्कि अनेक युवाओं के लिए रेलवे ड्राइवर बनना एक महत्वाकांक्षी सपना होता हैI अगर आप भी कुछ ऐसा ही सोचते हैं तो कड़ी मेहनत के साथ-साथ प्रवेश प्रक्रिया के बारे में जानकर लोको पायलट से सबंधित परीक्षा सिलेबस को जानकार सफलता के लिए सफल रणनीति बनाकर एवं तैयारी के दौरान उस पर अमलकर आप भी रेलवे ड्राइवर बन सकते सकते हैंI  

  • शैक्षणिक योग्यता और आयु सीमा(Education Qualification & Age)-

रेलवे ड्राइवर की परीक्षा में आवेदन के लिए उम्मीदवार को मान्यता प्राप्त बोर्ड,संस्थान या किसी कॉलेज,विश्विद्यालय से न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता दसवीं  पास कर 2 साल का आईटीआई करना अनिवार्य हैI आईटीआई के बिना पॉलिटेक्निक,डिप्लोमा करने वाले छात्र भी आवेदन कर सकते हैंI परन्तु आप स्नातक हैं तो और भी बेहतर हैI उम्मीदवार के लिए न्यूनतम 18 और अधिकतम आयु 30 वर्ष निर्धारित की गई हैI  आरक्षित वर्ग के उम्मीदवारों को सरकारी नियम के अनुसार उम्र संबंधी सीमा में छूट का प्रावधान हैI

      • परीक्षा

लोको पायलट के लिए मुख्य रूप से दो चरण में परीक्षा आयोजित की जाती हैIदोनों परीक्षा CBT(कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट) होता हैIप्रथम चरण(PAPER-1) में 75  प्रश्न पूछे जाते हैं जिनकी समयावधि एक घंटे की होती हैIजिसमें गणित से 20 ,विज्ञान से 25 तथा सामन्य ज्ञान-विज्ञान से 30 प्रश्न पूछे जाते हैंI प्रथम चरण के  परीक्षा पास करने के बाद (पेपर-2) आयोजित की जाती हैIजिसमें PAPER A में 75 प्रश्न तथा B में आपके ट्रेड्स से सबंधित वस्तुनिष्ठ प्रकार की लिखित परीक्षा होती हैI इसके अंतर्गत जनरल अवेयरनेस, जनरल इंटेलिजेंस एंड रीजनिंग, जनरल साइंस,विज्ञान तथा प्राद्यौगिकी  तथा मैथ्स से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैंI प्रत्येक गलत उत्तर पर 0.25 अंक काटे जाते हैंI वस्तुनिष्ठ परीक्षा पास करने के बाद साइको टेस्ट होता है लिखित परीक्षा होती है यह एक प्रकार के स्किल टेस्ट है इसमें आपके मानसिक गतिविधियों को सक्रियता को अनुमान लगाया जाता  हैI इसके बाद मेडिकल टेस्ट कराया जाता हैI इसके अंतर्गत विशेषकर आपके आंखों की दृश्यता की जांच की जाती हैI

  • परीक्षा का सिलेबस-

अक्सर देखा जाता है कि रेलवे से संबंधित अधिकतर परीक्षाओं में सामान्य विज्ञान तथा सामान्य ज्ञान से सबंधित प्रश्न  अन्य प्रश्नों की तुलना में अधिक पूछे जाते हैंIजनरल अवेयरनेस में करेंट के साथ भारत के पड़ोसी देश के खेल, संस्कृति, भूगोल राजनीति, इतिहास, भारतीय संविधान एवं विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी इत्यादि क्षेत्र से पूछा जाता हैIइसके अलावा जनरल इंटेलिजेंस के अंतर्गत  रिलेशनशिप कॉन्सेप्ट, समस्या का समाधान, चित्रों का वर्गीकरण, कोडिंग डिकोडिंग,वाक्य निष्कर्ष समानता तथा अंतर इत्यादि जैसे प्रश्न पूछे जाते हैंI

  • वेतन

शुरुआती समय में ट्रेन ड्राइवर(Loco Pilot) बनने से पहले असिस्टेंट लोको पायलट के रूप में नियुक्ति होती हैI जिसमें शुरूआती समय से 18,000 से ₹25,000 तक वेतन पा सकते हैंIअनुभव बढ़ने के साथ-साथ वेतन में इजाफा होता हैI इसके उपरांत ट्रेन ड्राइवर बनने के बाद वेतन  दुगनी हो जाती हैI